शरीर के लिए योग बेहद जरूरी है, होगा बुद्धि का विकास

योग से शरीर और बुद्धि का विकास होता है। यह बात उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने उत्तराखंड के ऋषिकेश में कहीं। नायडू ऋषिकेश में आयोजित अंतरराष्ट्रीय योग महोत्व में शामिल होने के लिए देहरादून के जौलीग्रांट हवाई अड्डा पहुंचे, जहां पर राज्यपाल कृष्णकांत पॉल और सीएम त्रिवेन्द्र सिह रावत ने उनकी अगवानी की।

इसके बाद वे ऋषिकेश गए जहां पर उनका भव्य स्वागत किया गया। उन्होंने यहां पर बोलते हुए कहा कि मुझे इस पवित्र भूमि पर मां गंगा का आशीर्वाद लेने का अवसर प्राप्त हुआ है और ये मेरे लिए सुखद अनुभव है। उन्होंने कहा कि मैं सौभाग्यशाली हूं कि मुझे यहां आने का अवसर मिला है।

उन्होंने कहा कि योग देश ही नहीं बल्कि इस संसार के हर नागरिक के लिए बहुत जरूरी है। योग करने से इंसान के शरीर का ही नहीं बल्कि बुद्धि का भी विकास होता है। योग शरीर को स्वस्थ्य रखने का सबसे सही और सरल उपाय है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति अगर रोजाना सुबह मात्र 30 मिनट योग करे तो वे अपने शरीर और बुद्धि में अवश्य परिवर्तन कर सकता है।

नायडू ने इस अवसर पर योग गुरु बाबा रामदेव के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि उन्होंने योग को प्रसिद्धि दिलाने में अहम भूमिका निभाई है। उन्होंने कहा कि देश-विदेश में सैलानियों को योग के बारे में जानकारी देना तथा उन्हें योग सीखाना एक बड़ा कार्य है।

यह भी पढ़ें-

हो जाएंगे हैरान चोकर युक्त आटा खाने के ये फायदे जानकर