उत्तर प्रदेश: तीन तलाक पीड़ित महिलाओं को सालाना ₹6 हजार देगी योगी सरकार

उत्तर प्रदेश में ‘तीन तलाक’ से प्रभावित करीब 7 हजार महिलायें हैं। ये सभी वे महिलाएं हैं, जिन्होंने मामले की एफआईआर दर्ज कराई है या फिर मामले में फैमिली कोर्ट में विचाराधीन हैं। इन सभी पीड़ित महिलाओं को यूपी की योगी सरकार शीघ्र ही कैबिनेट प्रस्ताव लाएगी, जिसके तहत इन महिलाओं के लिए छह हजार रुपये सालाना दिया जाएगा। बता दे देशभर में तीन तलाक अवैध होने के बाद प्रदेश सरकार ने इन महिलाओं के साथ सीधा संवाद स्थापित किया हैं।

25 सितंबर 2019 को एक संवाद कार्यक्रम आयोजित किया गया था। जिसमें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्रिपल तलाक पीड़ित और परित्यक्ता महिलाओं के लिए 500 रुपये महीने आर्थिक सहायता देने का एलान किया था। सीएम ने कहा था कि यह आर्थिक सहायता सरकार की तरफ से दी जाती रहेगी, जब तक कि पीड़ित महिलाओं को न्याय नहीं मिल जाता। इसकी खास बात यह है कि अन्य कल्याणकारी योजना की तरह इसमें कोई भी आय सीमा तय नहीं की गई है।

प्रदेश सरकार के निर्देश पर अलग-अलग जिलों से तीन तलाक पीड़ित महिलाओं के आंकड़े इकट्ठा किए गए हैं। जिनकी संख्या के आधार पर बजट प्रावधान किया जाएगा। अल्पसंख्यक कल्याण निदेशालय के उच्चपदस्थ सूत्रों के अनुसार बजट का अनुमान लगाकर शीघ्र ही इसे कैबिनेट से पास कराया जाएगा।

यह भी पढ़े: अमेरिका: डोनाल्ड ट्रंप की कोरोना रिपोर्ट आई नेगेटिव, फिर शुरू की चुनावी रैलियां
यह भी पढ़े: ऐंटीबायॉटिक्स के गलत प्रयोग से लोगों में बढ़ रहा है कई बीमारी का खतरा!

Loading...