आपको भी पैड लगाने से होते है रैशेज, ऐसे पाएं इस समस्या से निजात

पीरियड्स के दौरान महिलाओं को काफी तकलीफ का सामना करना पड़ता है। यह तकलीफ सिर्फ ब्लीडिंग या शरीर में दर्द तक ही सीमित नहीं है। बल्कि कभी-कभी पैड लगाने के कारण आपको रैशेज की समस्या का सामना करना पड़ता है। अगर आप भी ऐसी समस्या से दो-चार होती है तो चलिए जानते हैं इससे निजात पाने के उपाय के बारे में-

स्किनि जीन्स पहनने के बजाय ढीले पैंट या फिर कॉटन अंडरवियर पहनें। ये आपके जेनाइटल एरिया में होने वाले पसीने को कम करता है जिससे आपके रैशेज की समस्या कम होती है और साथ ही दर्द से भी राहत मिलता है।

पाउडर का इस्तेमाल करने से वेजाइना के आसपास का हिस्सा सूखा रहता है। वेजाइनल एरिया और जांघों पर पाउडर जरूर लगाएं। टैल्कम पाउडर के जगह एंटीसेप्टिक पाउडर का इस्तेमाल करना बेहतर विकल्प होता है क्योंकि ये बैक्टीरिया और कीटाणु को नष्ट करने में मदद करता है।

सही सैनेटरी पैड नहीं होने की वजह से रैशेज की समस्या उत्पन्न हो जाती है। इसलिए लाइट और सॉफ्ट पैड का इस्तेमाल करें। इससे आपके रैशेज कम हो जाएंगे और दर्द भी महसूस नहीं होगा।

वेजाइना के आसपास के हिस्से को साफ कर के रखें ताकि बैक्टीरिया और कीटाणु नष्ट हो जाएं और इंफेक्शन और रैशेज की समस्या कम हो जाए। गर्म पानी से भी आप वेजाइना या उसके आसपास के हिस्से को साफ कर सकते हैं।

डायबिटीज जैसे गंभीर रोग से बचने के लिए जानिए इन बातों का रखे ध्यान

इन उपायों की मदद से आप बच सकते है माइग्रेन की गंभीर बीमारी से