इस तरह का चिकन खाने से आप हो सकते हैं paralyzed

अधपका चिकन में पाये जाने वाले जीवाणु लकवा होने के एक कारण हो सकते हैं। शोधकर्ताओं का कहना है कि इससे गुलियन बैरे सिंड्रोम भी हो सकता है, यह मनुष्य में विकट न्यूरोमसक्यूलर लकवा होने का प्रमुख कारण भी है। शोध से न केवल यह पता लगा कि कैसे यह फूड बोर्न जीवाणु कैमप्लोबैक्टर जेजुनी गुलियन बैरे सिंड्रोम (GBS) को बहुत सक्रिय करता है बल्कि इसके इलाज के बारे में भी पता भी चला।

  • अगर चिकन उचित तापमान पर सही तरीके से नहीं पका हो तो इसमें बैक्टिरिया अवश्य जीवित रह सकता है। अमेरिका में मिशिगन स्टेट यूनिवर्सिटी के वेटनरी मेडिसिन कॉलेज के प्रोफ़ेसर ने कहा कि हमारे शोध से हमें पता चला कि यह एक खास कैमप्लोबैक्टर स्ट्रैन के साथ एक खास जेनेटिक के कारण यह रोग होता है।
  • उन्होंने कहा, इससे जुड़ी बात यह है कि बहुत सारे स्ट्रेन्स एंटीबायोटिक्स के प्रतिरोधक है और हमारे शोध से पता चलता है कि कुछ एंटीबायोटिक्स से इलाज करने पर रोगी को और ज्यादा नुकसान पहुंचा सकता है। दुनिया भर में GBS विकट न्यूरोमसक्यूलर लकवा होने का एक प्रमुख कारण भी है।
Loading...