नहीं जानते होंगे आप सौंफ के ये फायदे

एसिडिटी की समस्या होना आम बात है। कई बार सीने में जलन होती है। इस समय खाली पेट रहने या शरीर में एसिड की मात्रा बढ़ने से एसिडिटी और सीने में जलन होने लगती है। इस गंभीर समस्या से निपटने के लिए हम अक्सर दवाईयां लेते हैं जिनसे शरीर पर बहुत ही नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। इसलिए आपको कुछ घरेलू उपायों के बारे में बता रहे है। जिनसे एसिडिटी की समस्या से राहत मिलेगी।

केले में फाइबर मौजूद होता है जो पाचन क्रिया को ठीक रखता है। साथ ही इसमें पोटेशियम पाया जाता है जो पेट में म्यूकस का उत्पादन करता है। इस तरह केला शरीर में एसिड की मात्रा को बढ़ने से रोकता है।

ठंडे पेय पदार्थ पीना स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है। वैसे तो दूध गर्मी करता है लेकिन इसमें कैल्शियम होता है जो हड्डियों की मजबूती के अलावा एसिडिटी में भी लाभकारी होता है। इसमें मौजूद कैल्शियम एसिड के पीएच को मेंटेन रखता है।

सौंफ को कई लोग ठंडाई के लिए बांटकर पीते है। साथ ही इसमें पाया जाने वाला एथेनॉल कंपाउड पेट के लिए ठीक है। सौंफ पेट की जलन को दूर करता है। इसे पानी में गलाकर और पीसकर सेवन किया जा सकता है। इसके अलावा तुलसी की पत्तियां भी एसिड की मात्रा को कम करती है और कच्चे बादाम को गलाकर खाने से भी सीने में जलन और एसिडिटी की समस्या नहीं होती।

यह भी पढ़ें-

अपनाये ये आसान उपाय थकान से छुटकारा पाने के लिए