नहीं जानते होंगे आप अमरूद खाने के ये फायदे

बदलते मौसम में हल्की धूप में बैठकर अमरूद खाने का मजा ही कुछ और है और अमरूद अच्छे स्वाद के साथ सेहत के लिए भी बहुत लाभकारी होता है। साथ ही अगर अमरूद का अलग तरीके से इस्तेमाल किया जाए तो इससे कई और बीमारियों का इलाज भी हो सकता है। आइए जानते अमरूद के इस्तेमाल, जिनसे आप कई बीमारियों को बहुत आसानी से दूर कर सकते हैं।

पेट के रोग के लिए लाभदायक- अमरूद पेट के लिए बहुत ही ज्यादा लाभकारी होता है, जिन लोगों को पेट से संबंधित रोग है और वो अमरूद का नियमित रुप से सेवन करें तो उन्हें जल्द ही फायदा भी हो सकता है। इससे अपच, गैस व कब्ज सहित पेट की अन्य बीमारियों से भी बहुत आराम मिलता है। वहीं जिन लोगों को अपच की शिकायत हैं, वो अमरूद का काढ़ा बनाकर उसका सेवन करें।

फोड़े-फुंसी में अमरूद का प्रयोग- अमरूद को आयुर्वेद में दाह नाशक माना गया है। जिन लोगों के हाथ-पैर में बहुत जलन होती है, वो अमरूद का नियमित रुप से सेवन करें। इससे हाथ-पैरों की जलन के साथ ही पूरे शरीर का दाह भी शांत होगा।

खांसी ठीक करने में सहायक- खांसी के लिए अमरूद का प्रयोग ठीक रहता है। जिन लोगों को खांसी आती है वो आधे पके अमरूद को बीच से टुकड़े कर लें और उसमें थोड़ा सेंधा नमक लगाकर आग में भूनें। उसके जब अमरूद पक जाए तो उस पके अमरूद को चबा-चबाकर खाएं। इससे कितनी ही पुरानी खांसी हो ठीक हो जाती है। साथ ही जिन लोगों को भूख नहीं लगती, लीवर खराब रहता है, उनके लिए भी भुना अमरूद बहुत ही लाभकारी है।

दांतों के लिए फायदेमंद- अमरूद के साथ साथ इसकी पत्तियां भी दांतों व मसूड़ों के लिए बहुत फायदेमंद होता है। जिन लोगों के मसूड़ों में दर्द होता है, वो अमरूद की पत्तियों को कूटकर,1-2 लौंग व थोड़ा सा सेंधा नमक डालकर पानी में उबालें और उस पानी से गरारे अवश्य करें। ऐसा करने से दांतों व मसूड़ों की परेशानी में आराम मिलेगा और मुंह की बदबू भी दूर होगी।

मुंह के छाले ठीक करता है- जिन लोगों के मुंह में छाले हैं, वो लोग अमरूद की कोमल पत्तियों को तोड़कर साफ करके अवश्य चबाएं। उसके रस को निगल जाएं या बाहर निकाल दें। ऐसा करने से कुछ ही समय में आपके छालों में बहुत आराम मिल जाता है।

सेहत के लिए मूंग की हरी दाल होती है बहुत लाभदायक