गर्भ-निरोधक गोली खाने के ये फायदे जानकर हो जायेंगे आप भी हैरान

हमारे देश में बहुत अधिक महिलाएं गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन गर्भ टालने के लिए लगातार करती हैं। लेकिन क्या आप यह जानते है की गर्भ टालने के अलावा इसके कई सारे अन्य लाभ भी हैं। तो आइये जानते है इसके बेहतरीन लाभ….

मासिक-धर्म के चक्र (साइकल) को पूरी तरह नियंत्रित करना – आप इन गोलियों की पेकिंग को बहुत ध्यान से देखिये । ज्यादतर पेकिंग में लगभग 28 गोलियां होती हैं; जिनमें से 21 एक्टिव (हार्मोन वाली) और 7 इनेक्टिव (हार्मोन रहित) होती हैं। समान्यतः जिन दिनों इनेक्टिव पिल्स ली जाती हैं, उन्हीं दिनों में पीरियड्स बहुत अधिक होते हैं। इसलिए महिलाएं चाहे तो अधिक दिन एक्टिव पिल्स लेकर पीरियड्स को और ज्यादा टाल सकती हैं।

पीरियड्स के दर्द में राहत – आपको बता दे की गर्भाशय में प्रोस्टेग्लेडीन नामक एक हार्मोन का स्राव होता है। इस हार्मोन का अत्यधिक स्राव होने से पीरियड्स के दिनों में बहुत तेज दर्द रहता है। क्योंकि इससे गर्भाशय में बहुत अधिक संकुचन होता है और क्रेम्प्स बनते हैं गर्भनिरोधक गोलियां लेने से ओवुलेशन बहुत कम होता है और इस हार्मोन का स्राव भी बहुत कम होता है।

कैंसर के खतरे को कम करना – गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन करने से और उनके गर्भ-धरण करने से उनकी डिंबाशय के कैंसर से अत्यधिक सुरक्षा होती है; और यह कैंसर ऐसा है कि इसका जल्दी पता लगना बहुत ही मुश्किल होता है। इसलिए इससे यथासंभव बचाव ही बेहतरीन उपाय है।

मुहाँसे और त्वचा की समस्याओं में कमी – मुहांसों की गंभीर समस्या और त्वचा की कुछ और गंभीर समस्याओं का मुख्य कारण हार्मोन्स का पूर्ण असंतुलन होता है। गर्भनिरोधक गोलियां हार्मोन्स को संतुलित रखने में बहुत अधिक मदद करती हैं इसलिए ये ऐसी गंभीर समस्याओं को भी कम करती हैं। यह मुहांसों आदि के दूसरे कई इलाजों से बहुत बेहतर विकल्प है।