जानकर हो जायेंगे हैरान, गुनगुने पानी में नमक मिलाकर नहाने से होते हैं ये फायदे

हम सब जानते हैं कि नमक हमारे लिए कितना आवश्यक है। शायद ही कोई ऐसा होगा जो नमक नहीं खाता होगा। लेकिन नमक कुछ लोगों के लिए बहुत फायदेमंद है तो कुछ के लिए नुकसानदायक भी। जैसे उच्च रक्तचाप के मरीजों के लिए नमक जहर के समान है तो निम्न रक्तचाप वालों के लिए नमक बहुत लाभकारी होता है। नमक जिस तरह से हमारे भोजन में एक अहम किरदार निभाता है उसी तरह ये नमक हमारी कई बीमारियों को भी विल्कुल दूर करता है। ये तो आप सब जानते ही होंगे कि जब गला खराब होता है तब नमक के पानी से गरारा करने पर बहुत आराम मिलता है। लेकिन हम आपको बताने जा रहे हैं नमक को पानी में मिलाकर नहाने के कुछ ऐसे फायदे जो शायद ही आप जानते होंगे।

जहरीले और हानिकारक पदार्थों को दूर करता है: नमक के पानी को हल्के हुनगुने पानी में डालकर नहाने से त्वचा से सारे जहरीले तत्व बाहर पूरी तरह निकल जाते हैं। गर्म पानी त्वचा के रोम छिद्रों को खोलता है। इससे मिनरल्स त्वचा के अंदर जाकर गहराई तक ठीक से सफाई करते हैं।

त्वचा के लिए: नमक के पानी में कई जरूरी खनिज और पोषक तत्व होते हैं जो त्वचा को जवां बनाते हैं। मैग्नीशियम, कैल्शियम, ब्रोमाइड, सोडियम जैसे मिनरल्स त्वचा के रोम छिद्रों में प्रवेश करते हैं। ये त्वचा की सतह को साफ कर इसे स्वस्थ और बहुत चमकदार बनाते हैं।

मानसिक तनाव को कम करता है: नमक के पानी से स्नान शरीर के साथ ही मानसिक स्वास्थ्य के लिए भी बहुत अच्छा है। इससे स्नान करने के बाद आप ज्यादा शांत, खुश और आराम महसूस करेंगे। यह एक शानदार स्ट्रेस बस्टर है। यह मानसिक शांति भी बहुत बढ़ाता है।

त्वचा की नई परत बनाता है: त्वचा पर चमड़ी उतरकर नई चमड़ी लाने से भी त्वचा बहुत स्वस्थ रहती है। फोस्फेट्स जैसे नमक के पानी से नहाने से डिटर्जेंट की भांति सफाई होती है और चमड़ी उतरकर नई चमड़ी आती है। इससे त्वचा नरम और बहुत ही मुलायम रहती है।

एसिडिटी से छुटकारा दिलाता है: एसिडिटी एक ऐसी समस्या है जिससे आजकल ज्यादातर लोग ग्रसित हैं। इसके ईलाज के लिए महंगी और साइड इफेक्ट करने वाली दवाइयों की बजाय आप नमक के पानी से नहाने के नुस्खे को आसानी से आजमा सकते हैं।

पैरों की मांसपेशियों के लिए: पैरों पर शरीर में सबसे ज्यादा दबाव पड़ता है। ये अधिकतर समय मूव करते हैं और शरीर को फूल सपोर्ट प्रदान करते हैं। इससे यहां की मांसपेशियां मुलायम हो जाती हैं और इनमें जूते चप्पलों के कारण छाले भी हो जाते हैं। नमक के पानी से नहाने से मांसपेशियों में दर्द और जकड़न से निजात भी मिलती है। यह पैरों की दुर्गध को भी बहुत दूर करता है।

यह भी पढ़ें –

अगर आपके बच्चों के पेट में हैं कीड़े, तो ऐसे कीजिए उपचार