आपकी चलने की स्टाइल बता देती है शरीर अंदर का पूरा हाल

चलने का स्टाइल बहुत  हद तक आपके नेचर के बारे में बयां कर देता है। आप कितनी एग्रेसिव हैं और कितनी कूल, यह भी।  हाल ही में आई एक रिसर्च के बाद यह पता चला है। मोशन केप्चर टेक्नोलॉजी के जरिए यूके की एक रिसर्च टीम ने 30 लोगों की ब्रेस्ट और हिप्स की गति और उनके चलने की गति  देखकर उनकी पर्सनैलिटी का पता लगाया, जिसमें वे काफी हद तक सफल भी रहे। रिसर्च टीम के मुताबिक, ‘हमारे रिसर्च से यह बात साफ  होती है कि लोगों के चलने के तरीके से उनके व्यक्तित्व और मूड के बारे में पता चलता है।’

  • स्ट्रेट चलने वाले

जो लोग स्ट्रेट चलते हैं। चलते समय उनका कंधा और सीना तना रहता है। ऐसे लोग दूसरों पर हुक्म चलाना जानते  हैं और बेहद गुस्से वाले होते हैं। वो फिजिकली स्ट्रॉग होते हैं। उनका कॉन्फिडेंस काफी उच्च  रहता है और हेल्थ वाइज भी वे फिट रहते हैं। शारीरिक रुप से मजबूत होते हैं। उनके अंदर काफी आत्मविश्वास होता है और वे जल्दी बीमार भी नहीं होते ।

  • पैरों के साथ-साथ  हाथ भी हिलाना

जो लोग चलते वक्त पैरों के साथ-साथ हाथ भी हिलाते हैं, वे बेहद पॉजिटिव होते हैं। वे एनर्जेटिक होते हैं और हर पल को इंजॉय करना जानते  हैं। इनका नेचर फनी होता है  और वे अपने नेचर से  पूरे माहौल को खुशगवार बनाए रहते हैं।

  • कंधे झुकाकर चलना

जो अपने कंधे आगे की ओर झुका कर चलते हैं, वे लोग कम मेहनती होते हैं। उनमें एनर्जी की कमी होती है। वे किसी भी काम को पूरा करने में काफी वक्त लगाते हैं। ऐसे लोग जब भी किसी से मिलने के लिए नजदीक जाते हैं, उनकी अपीयरेंस दूसरे को प्रभावित करती है।

  • तेज चलने वाले

कुछ लोग कदम तो छोटे उठाते हैं, लेकिन चलते जल्दी-जल्दी हैं। ऐसे लोग बेहद एनर्जेटिक होते हैं और हर काम को बेहद मन से करते हैं। हां, ये लोग कन्फ्यूजड बहुत  होते हैं। लेकिन जो भी फैसला लेते हैं, उस पर अडिग रहते हैं।

  • जमीन पर जोर देकर

कुछ लोग जमीन पर जोर देकर चलते हैं। यह उनके हठी स्वभाव को दर्शाता है। वे स्थिर होते हैं, लेकिन ऐसे लोग को अपना फैसला बदलना गंवारा नहीं होता। ये एक बार जो निर्णय लेते हैं, उसी पर टिके रहते हैं।

  • पैर घसीटकर चलने वाले

कई लोग दूर से ही देखने पर लगते हैं जैसे कि वे बेहद थके हों और उनका मन चलने का भी न कर रहा हो। ऐसे लोग डिप्रेशन में होते हैं। ऐसे लोगों को छोटी बात पर ही टेंशन हो जाता है।

  • क्या सोचते हैं और महसूस करते हैं

यूके की एक यूनिवर्सिटी पोर्ट्समाउथ में हाल ही में हुई एक स्टडी के मुताबिक, आपके चलने के अंदाज से पता चल जाता है कि आप कितने गुस्से वाली हैं। यह स्टडी 29 लोगों पर की गई। स्टडी के तहत उन पर मोशन कैप्चर टेक्नालॉजी का यूज किया गया, जिसमें ट्रेडमील पर नेचरल स्पीड पर वॉक करते हुए उनकी बॉडी मूवमेंट्स को रिकॉर्ड किया गया।

इसमें पता चला कि अगर चलते वक्त किसी व्यक्ति के शरीर के ऊपरी और निचले हिस्सा ज्यादा हिलता है, तो उसमें एग्रेसिवनैस ज्यादा होती है। वॉक करने के अलावा, रिसर्च टीम ने पार्टिसिपेंट्स को एक फॉर्म भरने के लिए भी कहा, जो उनके एग्रेसिव लेवल का अंदाजा लगाता है। इसमें ‘बिग फाइव’ नाम का एक टेस्ट भी लिया। टेस्ट और फॉर्म के जरिए उन्होंने पता लगाया कि लोग क्या सोचते हैं,  और कैसे व्यवहार करते हैं।

यह भी पढ़ें:

नींद की गोली लेने से पहले जान लीजिए इन बातों को!

इन चीजों के सेवन से दूर हो जाती है खून की कमी!