युवराज सिंह ने अपने रिटायरमेंट को लेकर किया बड़ा खुलासा, कहा-अब मैं मानसिक रूप से खुश

पिछले साल हुए आईसीसी वर्ल्ड कप (2019) में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच हुए मुकाबले के बाद ही पूर्व भारतीय ऑल राउंडर युवराज सिंह ने इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कह दिया था। 15 साल के लंबे और सफल करियर में युवराज सिंह ने कई बेहतरीन और यादगार पारियां खेली, जिन्हें आज भी उनके फैंस याद रखते है। चाहे टी-20 विश्वकप 2007 में स्टुअर्ट ब्रॉड के ओवर में सभी 6 गेंदों पर 6 छक्के हो या विश्व कप 2011 में उनका योद्धा की तरह प्रदर्शन।

हाल ही में गौरव कपूर के साथ बातचीत में युवराज ने पिछले साल ही संन्यास लेने के अपने फैसले के पीछे की वजह का खुलासा किया। उन्होंने बताया कि उनके करियर में जब सब कुछ अच्छा चल रहा था और करियर भी तेज गति से दौड़ रहा था। ऐसे में उन्हें अहसास नहीं था कि क्या हो रहा है। लेकिन जब अचानक से दो से तीन महीने घर बैठ जाने पर, पता चला कि बाहर काफी कुछ बदल गया और ऐसे में उन्हें मानसिक रूप से कोई मदद नहीं मिल रही थी।

युवराज ने बताया कि वह हमेशा क्रिकेट खेलना चाहते थे, लेकिन वह खुद को घसीट रहे थे और सोच रहे थे कि उन्हें कब रिटायर होना है। उन्हें रिटायरमेंट लेना चाहिए या खेलते रहना चाहिए ? उन्होंने कहा कि वह खेल को मिस करते थे और नहीं भी करते। वह लंबे समय तक खेल चुके थे और फैंस के मैसेज उन्हें आते थे। युवी ने बतया कि लगभग 20 सालों तक क्रिकेट खेलने के बाद उन्हें लगा कि रिटायरमेंट का यही सही समय है। रिटायर होने के बाद वह खुश है।

यह भी पढ़े: सुशांत की मौत से दुखी होकर क्रिकेटर शमी बोले, अच्छा होता अगर मैंने उनसे बात की होती
यह भी पढ़े: ड्रोन की मदद से हथियार ले जा रहे पाकिस्तानी ड्रोन को BSF ने किया ढ़ेर, बड़ी साजिश नाकाम