15% से ज्यादा चढ़ गए जोमैटो के शेयर, पैसे लगाने से पहले जान लें 3 जरूरी बातें

ऑनलाइन फूड डिलीवरी प्लैटफॉर्म जोमैटो के शेयरों में पिछले कुछ दिनों में जबरदस्त तेजी आई है। पिछले 5 दिन में जोमैटो  शेयर 15 पर्सेंट से ज्यादा चढ़ गए हैं। 1 अगस्त 2022 को नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) में जोमैटो के शेयर 47.05 रुपये के स्तर पर थे, जो कि 5 अगस्त 2022 को 55 रुपये के ऊपर कारोबार कर रहे हैं।

कंपनी के शेयरों का 52 हफ्ते का हाई 169 रुपये है। जोमैटो के शेयर अभी 76 रुपये के IPO प्राइस से काफी नीचे हैं। अगर आप जोमैटो के शेयरों में पैसा लगाने की सोच रहे हैं तो आपको यह 3 बातें जान लेनी चाहिए, इनसे आपको निवेश से जुड़ा फैसला लेने में मदद मिल सकती है।

कई ब्रोकरेज हाउस ने बढ़ाया जोमैटो का टारगेट प्राइस

विदेशी ब्रोकरेज हाउस यूबीएस (UBS) ने जोमैटो का कवरेज शुरू किया है। ब्रोकरेज हाउस ने जोमैटो के शेयरों को बाय रेटिंग दी है और कंपनी के शेयरों के लिए 165 रुपये का टारगेट दिया है। विदेशी ब्रोकरेज हाउस का कहना है कि इंडियन फूड डिलीवरी स्पेस में ग्रोथ के लिए लंबा रनवे है। ब्रोकरेज हाउस का मानना है कि जोमटो रेवेन्यू में 40 पर्सेंट से ज्यादा की कंपाउंडेड ग्रोथ डिलीवर करेगी। ब्रोकरेज हाउस सिटी (Citi) ने भी जोमैटो के शेयरों को ओवरवेट रेटिंग दी है।

वैल्यूएशन गुरु दामोदरन ने घटाई है शेयरों की वैल्यू

ग्लोबल ब्रोकरेज फर्म जेफरीज  ने जोमैटो के शेयरों को बाय रेटिंग दी है और कंपनी के शेयरों के लिए 100 रुपये का टारगेट प्राइस दिया है। ब्रोकरेज हाउस एंबिट ने भी पिछले दिनों Zomato के स्टॉक्स को बाय रेटिंग दी है और 103 रुपये का टारगेट प्राइस दिया है।

कोटक इंस्टीट्यूशनल इक्विटीज ने पिछले दिनों कहा था कि Zomato के शेयरों के लिए सबसे खराब समय खत्म हो गया है। अब कंपनी के शेयरों में तेजी आने की उम्मीद है। वहीं, वैल्यूएशन गुरु अस्वथ दामोदरन ने जोमैटो के शेयरों का वैल्यूएशन 35.32 रुपये कैलकुलेट किया है, जिससे संकेत मिलता है कि इस न्यू-एज स्टॉक में और गिरावट देखने को मिल सकती है। एक साल पहले ही उन्होंने जोमैटो के शेयरों की वैल्यू 41 रुपये लगाई थी।

लॉक-इन पीरियड खत्म होने के बाद लगी शेयर बेचने की होड़

जोमैटो के शेयरों के लिए मैन्डटॉरी लॉक-इन पीरियड 23 जुलाई 2022 को खत्म हुआ है। यानी, 613 करोड़ से ज्यादा शेयर या कंपनी का करीब 78 पर्सेंट स्टेक फ्री हुआ है। इसके बाद से जोमैटो के शेयरों में तेज बिकवाली देखने को मिली है। उबर टेक्नोलॉजीज ने बुधवार को जोमैटो में अपनी 7.78 पर्सेंट हिस्सेदारी एक बल्क डील में बेच दी है।

दो इंस्टीट्यूशनल इनवेस्टर्स फिडेलिटी और ICICI प्रूडेंशियल लाइफ इंश्योरेंस ने यह हिस्सेदारी खरीदी है। उबर के अलावा, अमेरिकी हेज फंड टाइगर ग्लोबल (Tiger Global) ने ओपन मार्केट में जोमैटो के 18.5 करोड़ से ज्यादा शेयर बेचे हैं। टाइगर ग्लोबल ने यह शेयर 25 जुलाई से 2 अगस्त 2022 के बीच बेचे हैं।

जोमैटो ने रिजेक्ट किया EY का नया वैल्यूएशन

इस बीच, ऑनलाइन फूड एग्रीगेटर जोमैटो ने शुक्रवार को कहा है कि उसके बोर्ड ने EY (अर्न्स्ट एंड यंग) की लेटेस्ट वैल्यूएशन रिपोर्ट को रिजेक्ट कर दिया है। रिपोर्ट में क्विक कॉमर्स फर्म Blinkit को खरीदने के कारण जोमैटो के शेयर प्राइसेज को घटा दिया गया है। जोमैटो के बोर्ड ने 70.76 रुपये के प्रेफरेंशियल प्राइस को ही रखने का फैसला किया है। हालांकि, जोमैटो ने नए रिवाइज किए गए लोअर शेयर प्राइस का खुलासा नहीं किया है।

यह पढ़े: 5 दिन में 65% चढ़ा यह स्टॉक: मुकेश अंबानी के साथ डील होते ही रॉकेट बना शेयर, ₹43.90 पर पहुंचा भाव